Latest Post

आधार कार्ड को राशन कार्ड से कैसे लिंक करें: ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रक्रिया 5 मिनट में खोया हुआ वोटर आईडी कार्ड प्राप्त करें | डुप्लीकेट वोटर आईडी कार्ड
Spread the love

Syllabus |JSSC PGT Teacher 2022 Online PGTTCE Exam

 Syllabus |JSSC PGT Teacher 2022 Online PGTTCE Exam

परीक्षा का स्वरूप :-

आयोग द्वारा कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) ली जायेगी तथा किसी विषय की परीक्षा यदि विभिन्न समूहों में लिया जाता है तो अभ्यर्थियों के प्राप्तांक का Normalisation किया जायेगा | Normalisation का सूत्र अलग से आयोग के वेबसाईट पर प्रकाशित है। कम्प्यूटर आधारित परीक्षा के आधार पर अभ्यर्थियों की मेधा सूची उनके प्राप्तांक के Normalised अंक के आधार पर तैयार किया जायेगा तथा परीक्षाफल प्रकाशन के पश्चात उन्हें Normalised अंक ही दिया जायेगा ।

परीक्षा का स्वरूप एवं पाठ्यक्रम :-

  1. परीक्षा एक चरण (मुख्य परीक्षा) में ली जायेगी ।
  2. परीक्षा में सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ एवं बहुविकल्पीय उत्तर युक्त होंगे। प्रश्न 1- (1) में एक प्रश्न का पूर्ण अंक 1 (एक) रहेगा, जबकि प्रश्न पत्र – (2) में पत्र एक प्रश्न का पूर्ण अंक 2 (दो) होगा।

मुख्य परीक्षा के विषय एवं पाठ्यक्रम :-

मुख्य परीक्षा के लिए दो पत्र होंगे। यह परीक्षा दो पालियों में ली जायेगी। प्रत्येक पत्र के परीक्षा की अवधि 3 घंटा की होगी। प्रश्न पत्र- (1) में स्नातक स्तर के प्रश्न पूछे जायेंगे जबकि प्रश्न पत्र – ( 2 ) में प्रश्न स्नातकोत्तर स्तरीय होंगे।
  1. पत्र – 1 (सामान्य ज्ञान एवं हिन्दी भाषा की परीक्षा)————         100 अंक
  2. पत्र-2 (जिस विषय में नियुक्ति होनी है उस विषय की परीक्षा)—–    300 अंक
 

पत्र – 1 (सामान्य ज्ञान एवं हिन्दी भाषा की परीक्षा)

1.सामान्य ज्ञान

सामान्य अध्ययन :-   

इसमें प्रश्नों का उद्देश्य अभ्यर्थी की सामान्य जानकारी तथा समाज में उनके अनुप्रयोग के सम्बन्ध में उसकी योग्यता की जाँच करना होगा। वर्तमान घटनाओं और दिन-प्रतिदिन की घटनाओं के सूक्ष्म अवलोकन तथा उनके प्रति वैज्ञानिक दृष्टिकोण जैसे मामलों की जानकारी जिसे रखने की किसी भी शिक्षित व्यक्ति से अपेक्षा की जाती है। इसमें झारखण्ड, भारत और पड़ोसी देशों के संबंध में विशेष रूप से यथा संभव प्रश्न पूछे जा सकते है। सम-सामायिक विषय- वैज्ञानिक प्रगति, राष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार,भारतीय भाषाएं,पुस्तक, लिपि,राजधानी,मुद्रा,खेल-खिलाड़ी,महत्वपूर्ण घटनाएं। भारत का इतिहास, संस्कृति, भूगोल, पर्यावरण, आर्थिक परिदृश्य, स्वतंत्रता आन्दोलन भारतीय कृषि तथा प्राकृतिक संसाधनों की प्रमुख विशेषताएं एवं भारत का संविधान एवं राज्य व्यवस्था, देश की राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, सामुदायिक विकास पंचवर्षीय योजना । झारखण्ड राज्य की भौगोलिक स्थिति एवं राजनीतिक स्थिति की सामान्य जानकारी ।

सामान्य विज्ञान :-

सामान्य विज्ञान के प्रश्न पत्र में दिन-प्रतिदिन के अवलोकन एवं अनुभव पर आधारित विज्ञान की सामान्य समक्ष एवं परिबोध से संबंधित प्रश्न रहेगें, जैसा कि एक सुशिक्षित व्यक्ति से, जिसने किसी विज्ञान विषय का विशेष अध्ययन नहीं किया हो, अपेक्षित है।

सामान्य गणित :-

इस विषय में सामान्यतः अंक गणित, प्राथमिक बीजगणित, ज्यामिति, सामान्य त्रिकोणमिति, क्षेत्रमिति से संबंधित प्रश्न रहेगें। सामान्यतः इसमें मैट्रिक / 10वी कक्षा स्तर के प्रश्न रहेगें।

मानसिक क्षमता जाँच :-

इसमें शब्दिक एवं गैर शब्दिक दोनो प्रकार के प्रश्न रहेंगे। इस घटक में निम्न से संबंधित यथासंभव प्रश्न पूछे जा सकते है सादृष्य समानता एवं भिन्नता, स्थान कल्पना, समस्या समाधान, विश्लेषण, दृश्य स्मृति, विभेद अवलोकन, संबंध अवधारणा, अंक गणितीय तर्कशक्ति, अंक गणितीय संख्या श्रृंखला एवं कूट लेखन तथा कूट व्याख्या इत्यादि ।

कम्प्यूटर का मूलभूत ज्ञान (Fundamenal knowledge of Computer ) :-

इसमें कम्प्यूटर के विभिन्न उपकरणों, एम. एस. विन्डो ऑपरेटिंग सिस्टम, एम. एस. ऑफिस एवं इंटरनेट संचालन की विधि की जानकारी से संबंधित प्रश्न पूछे जा सकते है।

झारखण्ड:-

राज्य के भूगोल, इतिहास, सभ्यता संस्कृति, भाषा-साहित्य, स्थान, खान खनिज, उद्योग, राष्ट्रीय आंदोलन में झारखण्ड का योगदान, विकास योजनाएँ, खेल-खिलाड़ी, व्यक्तित्व, नागरिक उपलब्धियाँ राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय महत्व के विषय इत्यादि ।

2.हिन्दी भाषा ज्ञान:-

हिन्दी भाषा ज्ञान के अधीन हिन्दी अपठित अनुच्छेद (Unseen Passage ) तथा हिन्दी व्याकरण पर आधारित प्रश्न पूछे जायेंगे।

पत्र – 2 (जिस विषय में नियुक्ति होनी है उस विषय की परीक्षा)

विभिन्न विषयों के लिए प्रश्न पत्र-2 का विस्तृत पाठ्यक्रम दिए गए लिंक पर क्लिक करें:-                             ⇓                          विस्तृत पाठ्यक्रम  

मुख्य परीक्षा के आधार पर मेधा सूची का निर्माण :-

प्रश्न पत्र -1 अर्हक (Qualifying) प्रश्न पत्र होगा, अर्थात् इसमें मात्र न्यूनतम 33 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होगा। जिन अभ्यर्थियों द्वारा 33 प्रतिशत अंक प्राप्त नहीं किया जाता है, उनके प्रश्न पत्र -2 की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन नहीं किया जायेगा। प्रश्न पत्र -1 में स्नातक स्तर के प्रश्न पूछे जायेंगे।प्रश्न पत्र – 2 स्नातकोत्तर स्तरीय होगा तथा प्रश्न पत्र – 2 में प्राप्त प्राप्तांक के आधार पर मेधा सूची तैयार कीजायेगी परन्तु यह कि न्यूनतम अंक 50 प्रतिशत लाना अनिवार्य होगा। अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवार हेतु 45 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होगा। यह मेधा सूची स्नातकोत्तर प्रशिक्षित पद पर नियुक्ति का आधार होगी। प्रश्न पत्र – 1 एवं प्रश्न पत्र – 2 वस्तुनिष्ठ एवं बहुविकल्पीय होगा। 

झारखंड जीके का टेस्ट देने के लिए image पर लिंक पर क्लिक app download करें:-

Jharkhand Gk in Hindi JSSC
jharkhand gk in hindi
 

इन्हें भी पढ़ें:- 

  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *