Latest Post

लाडला भाई योजना की शुरुआत ,10,000 रुपये प्रदान किए जाएंगे। BSTC Rajasthan Pre-DElEd Result 2024 Declared: डायरेक्ट लिंक और डाउनलोड करने के चरण
Spread the love

भारत को पहली ओलंपिक में बार एथलीट ने गोल्ड मेडल किसने दिलाया?

टोक्यो ओलंपिक में हिंदुस्तान को पहला गोल्ड मेडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा पर पूरे देश को नाज है| उन्होंने 87.58m भाला फेंक कर स्वर्ण पदक दिलाया| ओलंपिक के इतिहास में अब तक भारत को केवल 9 स्वर्ण पदक मिले थे लेकिन अब उन्होंने 10 गोल्ड मेडल दिला दिया है |जिसमें 8 गोल्ड मेडल हॉकी में ,एक गोल्ड मेडल शूटिंग में (अभिनव बिंद्रा )और एक नीरज चोपड़ा ने भारत को दिया|                 

                              भारत को पहली ओलंपिक में बार एथलीट ने गोल्ड मेडल किसने दिलाया?

 

 अभिनव बिंद्रा के बाद से वे दूसरे ऐसे भारतीय हैं जिन्होंने एकल स्पर्धा में स्वर्ण पदक दिलाया है नीरज ने भाला फेंक इवेंट में इतिहास रचा और एथलेटिक्स में मेडल जीतने वाले पहले भारतीय बने |नीरज चोपड़ा केवल 23 साल की उम्र में ही इतिहास रच कर सभी युवाओं के लिए प्रेरणा बन गए हैं|

 

 

 

 gold medal

 

 

24 /12/1997 को हरियाणा राज्य में पानीपत जिले के एक छोटे से खंडरा गांव में Neeraj Chopra का जन्म पिता- सतीश कुमार ,माता -सरोज देवी के घर पर हुआ था |12 वर्ष की उम्र में ही नीरज मोटापे का शिकार हो गए थे ,उनका वजन बढ़ता हुआ देखकर घर वालों ने मोटापे को कम करने के लिए नीरज को खेलकूद का सहारा लेने की सलाह दी जिसके बाद से वह वजन कम करने के लिए पानीपत के शिवाजी स्टेडियम में जाने लगे और स्टेडियम में जैवलिन थ्रो की प्रेक्टिस करने वाले खिलाड़ियों को देखकर उनके मन में आया कि मैं तो इसको ओर भी ज्यादा दूर तक सकता हूं |

 

 

सबसे पहले 2012 में एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के बाद से नीरज ने 2016 में पोलैंड में हुए आईएएएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप में 86.48 मीटर दूर भाला फेंककर गोल्ड मेडल जीता था |

 

इन उपलब्धियों की वजह से उन्हें जूनियर कमीशंड ऑफिसर के तौर पर नियुक्ति मिल गई थी |अब आर्मी में जॉब मिलने के बाद से नीरज ने एक इंटरव्यू में कहा था कि मेरे पिता एक किसान हैं और माता हाउसवाइफ और मैं जॉइंट फैमिली में रहता हूं और मेरे परिवार में किसी की भी सरकारी नौकरी नहीं है इसीलिए सब मेरे लिए बहुत खुश हैं ,उन्होंने कहा था कि अब मैं अपनी training continue रखने के साथ-साथ अपने परिवार की आर्थिक मदद कर सकता हूं|

Olympic me athlete Mein Pratham gold medal

 

 

उपलब्धियां:-

 

 

👉दक्षिण एशियाई खेल गुवाहाटी 2016 (स्वर्ण )

👉जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप 2016 (स्वर्ण )

👉एशियन चैंपियनशिप 2017 (स्वर्ण )

👉एशियन गेम जकार्ता 2018 ( स्वर्ण )

👉कॉमन वेल्थ गेम्स गोल्ड कोस्ट 2018 (स्वर्ण )

👉टोक्यो ओलंपिक 2020 (स्वर्ण )

 

 

👉भारत सरकार के द्वारा 2018 में अर्जुन पुरस्कार दिया गया|

 

अन्य उपलब्धियां :-

 

👉वह ट्रैक एंड फील्ड में गोल्ड जिताने वाले पहले भारतीय एथलीट हैं ,भारतीय ओलंपिक इतिहास में 100 वर्षों में ट्रैक एंड फील्ड में पहला मेडल है|

 

इन्हें भी पढ़ें:- 

 

 

👆इस टॉपिक से जुड़े प्रश्नों को हल करने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके वीडियो देख सकते हैं:-

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *